Articles

‘स्वनिधि दीपोत्सव मेला’ में दुकानदार मायूस

Nov 16, 2021 am30 09:10am

बस्ती जिले में एक सप्ताह तक चलने वाले ‘स्वनिधि दीपोत्सव कार्यक्रम’ को जिला प्रशासन ने 20 नवंबर तक के लिए बढ़ा दिया है, लेकिन जिस उम्मीद के साथ छोटे दुकानदारों ने अपनी दुकानों का स्टॉल लगाया है, वे निराश हैं। तीन नवंबर तक चले मुख्य कार्यक्रम में सिने कलाकारों के बहाने भीड़ जुटाने की कवायद की गई, लेकिन कार्यक्रम को लेकर जो अपेक्षाएं थीं, वह पूरी नहीं हो पाईं।

बॉलीवुड नाइट का किया गया आयोजन

जिला प्रशासन ने छोटे दुकानदारों के हित को देखते हुए 20 नवंबर तक के लिए मेला कार्यक्रम बढ़ा दिया है। दुकानदारों का कहना है कि जब आयोजन पीक पर था, उस समय भी अपेक्षाकृत बिक्री नहीं हुई तो उसके बाद क्या होगा। दीपोत्सव में 2 और 3 नवंबर को बॉलीवुड नाइट में जोया अफरोज, मोनिका बेदी के कार्यक्रम को देखने के लिए लोग जुटे।

यहां फर्नीचर की लगी एकमात्र दुकान को गुरुवार को समेटने में दुकान संचालक जुटे रहे। अन्य दुकानदारों का कहना है कि यह उनके रोजगार को बढ़ावा देने के लिए नहीं बल्कि सरकारी आयोजन रहा। एपीएन पीजी कॉलेज में 28 अक्टूबर को सांसद हरीश द्विवेदी ने दीप प्रज्वलित कर दीप महोत्सव का उद्घाटन किया था। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की कविता ‘आओ फिर से दिया जलाएं’ की प्रस्तुति से शुरू हुए स्वनिधि दीपोत्सव मेला में स्कूली बच्चों तक की भागीदारी रही।

दुकान समेटने की तैयारी कर रहे दुकानदार

प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना एमएसएमई, ओडीओपी, डूडा, एनआरएलएम, खादी ग्रामोद्योग, मिशन शक्ति, आजादी का अमृत महोत्सव, चौरी-चौरा शताब्दी समारोह एवं अन्य विभागों के कार्यक्रमों की प्रदर्शनी भी लगाई गई। 3 नवंबर की रात तक लोक गायन, लोक नृत्य, समूह नृत्य, गायन, एकल नृत्य एवं गायन, फैशन शो, फैंसी ड्रेस शो, कवि सम्मेलन, मयूर नृत्य, फूलों की होली डिवेट, चित्रकला, रंगोली, निबंध और स्लोगन प्रतियोगिताओं के आयोजन किए गए। हालांकि इसके बाद भी दीपोत्सव का उद्देश्य पूरा नहीं हो पाया। जो दुकानों के स्टॉल लगे भी हैं, वे भी दुकान समेटने की तैयारी कर रहे हैं।


Source- https://www.bhaskar.com/local/uttar-pradesh/basti/news/basti-administration-extended-deepotsav-fair-till-november-20-shopkeepers-said-no-use-now-129089497.html

 

Articles